Vande Bharat express : जानिए आधुनिक भारत की आधुनिक ट्रेन वन्दे भारत एक्सप्रेस के बारें में

Vande Bharat express :- पूरी तरह से भारत में निर्मित वन्दे भारत एक्सप्रेस को ट्रेन 18 के नाम से भी जाना जाता है यह भारत की पहली सेमी-हाई-स्पीड ट्रेन है यह ट्रेन पुर्णतः स्वदेशी ट्रेन है इसे पूरी तरह से भारत में ही डिज़ाइन और निर्मित किया गया है, इस ट्रेन के आने से भारत में ट्रेन यात्रा के नए युग की शुरुआत हुई है।

यह ट्रेन फरवरी 2019 में नई दिल्ली से वाराणसी तक शुरू की गई थी लेकिन अब और भी जगह पर इस ट्रेन की शुरुआत की गई है, गृहमंत्री अमित शाह ने 3 अक्टूम्बर 2019 नई दिल्ली से कटरा के लिए ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था यह ट्रेन नई दिल्ली से वाराणसी तक का सफर 8 घंटे में तय करती है।

Vande Bharat express train Speed

यह भारत की अनोखी ट्रेन मानी जाती है ऐसा माना जाता है कि इस ट्रेन की लागत करीब 100 करोड़ रुपये है इसकी गति शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से भी ज्यादा है, इस ट्रेन में आरामदायक सफर के लिए सभी चीजों का विशेष ध्यान रखा गया है इस ट्रेन की गति की बात की जाए तो यह ट्रेन 1 घंटे में 160 किलोमीटर तक सफर तय कर सकती है, इस ट्रेन को 18 महीने की मेहनत के बाद भारत सरकार के मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत बनाया गया था।

How many Vande Bharat express train in india 

भारत में अभी 6 वन्दे भारत एक्सप्रेस ट्रेन सुचारू रूप से चल रही हैं  आने वाले समय और कई वन्दे भारत एक्सप्रेस भारत मे दौड़ती हुई आपको दिखाई देगी इससे पहले नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के ऊना में वन्दे भारत एक्सप्रेस को।हरी झंडी दिखाई थी, जल्द ही भारत के कई राज्यो को इस ट्रेन की सौगात मिलेगी जिससे ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों को सुविधा मिलेगी।

Vande Bharat Express Routes

दिल्ली – वाराणसी

भारत की पहली वन्दे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की शुरुआत 18 फरवरी 2019 को हुई थी यह ट्रेन दिल्ली से वाराणसी (उत्तरप्रदेश) के बीच चलाई गई थी, दिल्ली से वाराणसी में यह ट्रेन केवल दो ही स्टेशनों पर स्टॉप लेती है दिल्ली से वाराणसी पहुचने में यह ट्रेन 8 घंटे का समय लेती है वन्दे भारत एक्सप्रेस इस रूट पर सप्ताह के सात दिन में से सोमवार और गुरुवार को छोड़कर 5 दिन चलती है।

दिल्ली – कटरा

भारत मे दूसरी वन्दे भारत एक्सप्रेस दिल्ली से कटरा (जम्मू और कश्मीर) से बीच चलाई गई थी इस ट्रेन की चलाने का उद्देश्य वैष्णो देवी यात्रा को सुरक्षित और तेज बनाना था इस ट्रेन की शुरुआत 3 अक्टूम्बर 2019 को गृहमंत्री अमित शाह ने हरी झंडी दिखाकर किया था और 5 अक्टूम्बर 2019 से यह ट्रेन आम लोगो की यात्रा के लिए चालू हो गई थी , या ट्रेन केवल 8 घंटो में दिल्ली से कटरा की दूरी तय करती है , इस रूट पर वन्दे भारत एक्सप्रेस सप्ताह में केवल मंगलवार को छोड़कर 6 दिन चलती है।

गांधीनगर – मुम्बई 

2019 के बाद कोरोना महामारी के कारण वन्दे भारत एक्सप्रेस की नई ट्रेन नए रूट पर नहीं उतारी गई इसके बाद 2022 में इसकी शुरुआत हुई दूसरी पारी में वन्दे भारत एक्सप्रेस की तीसरी ट्रैन गांधीनगर (गुजरात) से मुम्बई (महाराष्ट्र) के बीच चलाई है यह ट्रेन 30 सितंबर 2022 को लांच की गई थी यह ट्रेन केवल 6 घंटे में गांधीनगर से मुम्बई का सफर तय करती है जब कि दूसरी ट्रैन इसी सफर को तय करने में 8 घंटे लगती है। इस रूट पर वन्दे भारत एक्सप्रेस संडे की छोड़कर 6 दिन चलती है।

दिल्ली – ऊना 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 13 अक्टूम्बर 2022 को दिल्ली से ऊना (हिमाचल प्रदेश) के लिए वन्दे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई गई थी और 19 अक्टूम्बर 2022 से यह ट्रेन यात्रा के लिए शुरू हो गई थी दिल्ली से चलने से बाद यह ट्रेन अम्बाला, चंडीगढ़, आनंदपुर साहिब और ऊना में रुकती है , इस रूट पर वन्दे भारत एक्सप्रेस सोमवार, मंगलवार, बुधवार, गुरुवार, शनिवार और रविवार को चलती है।

चेन्नई – मैसूर 

भारत की पांचवी वन्दे भारत एक्सप्रेस उत्तर भारत में लांच की गई यह ट्रेन चेन्नई से मैसूर के बीच शुरू की गई इस ट्रेन की शुरुआत 10 नवंबर 2022 को की गई थी यह सेमी-हाई-स्पीड इस 479 किलोमीटर को पूरा करने में 6 घण्टे 40 मिनट का समय लगाती है , यह ट्रेन सप्ताह में बुधवार को छोड़कर 6 दिन चलती है।

बिलासपुर – नागपुर

भारत की छठी वन्दे भारत एक्सप्रेस को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 दिसंबर 2022 को लॉन्च किया था यह ट्रेन बिलासपुर से नागपुर के बीच चलाई गई वन्दे भारत एक्सप्रेस बिलासपुर से नागपुर की दूरी तय करने में 5 घण्टे 30 मिनट का समय लेती है और सप्ताह में 6 दिन चलती है शनिवार की यह ट्रेन इस रूट पर नहीं चलती है।

Vande Bharat express facilities

वन्दे भारत पुर्णतः स्वदेशी ट्रैन है और इसमें यात्रियों के लिए आरामदायक सफर का पूरा ध्यान रखा गया है, वन्दे भारत में स्वचालित दरवाजे है यह सभी दरवाजे बंद होने के बाद ही ट्रेन आगे बढ़ती है जिससे हादसे का डर कम हो जाता है इसके अलावा वन्दे भारत एक्सप्रेस में GPS, WIFI और वेक्यूम टॉयलेट की सुविधा है और सुरक्षा के लिए पूरी ट्रैन में CCTV कैमरे लगाए गए है। वन्दे भारत की चेयर बहुत ही आरामदायक है जिसे आप 180 डिग्री तक रोटेट भी कर सकते है इस ट्रैन की खासियत है कि यह महज 5 सेकंड में 100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ लेती है।

FAQ’s About Vande Bharat Express

Q :- वन्दे भारत एक्सप्रेस क्या है ?

Ans:- वन्दे भारत एक्सप्रेस भारत की पहली सेमी-हाई-स्पीड ट्रेन है जिसे पूरी तरह से भारत में निर्मित किया गया है इसे ट्रेन 18 के नाम से भी जाना जाता है।

Q :- वन्दे भारत एक्सप्रेस की अधिकतम गति क्या है?

Ans:- वन्दे भारत एक्सप्रेस की अधिकतम गति 180 किलोमीटर प्रति घंटा है।

Q :- भारत में कुल कितनी वन्दे भारत एक्सप्रेस है?

Ans:- भारत में अभी कुल 6 वन्दे भारत एक्सप्रेस चल रही है।

Q :- भारत में पहली वन्दे भारत एक्सप्रेस कब चली थी ?

Ans:- भारत में पहली वन्दे भारत एक्सप्रेस 18 फरवरी 2019 को चलाई गई थी।

Q :- वन्दे भारत एक्सप्रेस पहली बार कहाँ से कहाँ तक चली थी?

Ans:- वन्दे भारत एक्सप्रेस पहली बार दिल्ली से वाराणसी तक चली थी।

SEE ALSO :- 

Shark tank india 2023 : जानिए कौन है इस बार शार्क टैंक इंडिया के शार्क