Smart City Awards: एमपी के इस शहर को मिला 2022 का बेस्ट स्मार्ट सिटी अवार्ड

Smart City Award: स्मार्ट सिटी अवार्ड भारत सरकार द्वारा दिया जाने वाला एक पुरस्कार है, जो उन शहरों को दिया जाता है जो स्वच्छता, बुनियादी ढांचे, परिवहन, स्वास्थ्य व्यवस्था, शिक्षा का स्तर, और अन्य महत्वपूर्ण पहलुओं में नवाचार और प्रगति के लिए सतत विकास के लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए कार्य कर रहे है। स्मार्ट सिटी अवार्ड्स पुरुस्कारों को भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय द्वारा प्रदान किया जाता है। स्मार्ट सिटी अवार्ड पुरुस्कार शहरों को नवाचार के साथ प्रगति के लिए प्रोत्साहित करता है। आइये इस लेख हम स्मार्ट सिटी अवार्ड्स के बारे में ओर अधिक जानकारी प्राप्त करते है-

स्मार्ट सिटी अवार्ड क्या है

स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत देश के शहरों के विकास और प्रगति को नवाचार तरीकों से बढ़ाने वाले शहरों को भारत सरकार की ओर से प्रोत्साहन के लिए दिया जाने वाला एक पुरुस्कार है, जिसे स्मार्ट सिटी अवार्ड कहते है। यह स्मार्ट सिटी अवार्ड पुरस्कार हमारे देश के शहरों को नवाचार और प्रगति के लिए प्रोत्साहित करता है, और यह देश को एक स्मार्ट और सतत राष्ट्र बनने के लिए एक लंबा रास्ता तय करने में हमारी सहायता करता है।

निचे स्मार्ट सिटी अवार्ड की एक सूची दी गयी है-

  • 2016 – इंदौर, मध्य प्रदेश
  • 2017 – जयपुर, राजस्थान
  • 2018 – अहमदाबाद, गुजरात
  • 2019 – लखनऊ, उत्तर प्रदेश
  • 2020 – ग्रेटर नोएडा, उत्तर प्रदेश
  • 2021 – वाराणसी, उत्तर प्रदेश
  • 2022 –इंदौर, मध्य प्रदेश

इंडिया स्मार्ट सिटी अवार्ड 2022

मध्यप्रदेश के इंदौर शहर को बेस्ट स्मार्ट सिटी का अवार्ड मिला है। इंडिया स्मार्ट सिटी अवार्ड 2022 की रैंकिंग में पुरे भारत की स्मार्ट सिटी में मप्र का इंदौर नंबर एक पर है। इंडिया स्मार्ट सिटी अवार्ड 2022 में देश की बेस्ट स्मार्ट सिटी का पुरस्कार मध्यप्रदेश के इंदौर ने जीता है। इंदौर को कुल ओवरऑल समेत 7 केटेगरी में अवार्ड प्राप्त हुआ है। इन अवार्ड्स में मध्यप्रदेश के अन्य शहर भोपाल, सागर, ग्वालियर, और जबलपुर भी शामिल है।

india smart city award 2022 list

स्मार्ट सिटीज मिशन के अंतर्गत स्मार्ट सिटी अवार्ड प्रतियोगिता की घोषणा आवास एवं शहरी मामलों मंत्रालय द्वारा 25 अगस्त 2023 को की गयी इसमें विभिन्न श्रेणियों में 66 विजेताओं को स्मार्ट सिटी अवार्ड से नवाजा गया। इसमें स्मार्ट सिटी की 7 कैटेगरी में इंदौर को स्मार्ट सिटी अवार्ड पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। इंडिया स्मार्ट सिटी अवार्ड 2022 के तहत सबसे ज्यादा पुरस्कार मप्र के इंदौर को ही मिले हैं। दूसरे स्थान पर सूरत और तीसरे स्थान पर आगरा शहर है।

India smart city award 2022 में भोपाल को जल आपूर्ति प्रणाली और ऐतिहासिक धरोहरों के संरक्षण के लिए यह अवार्ड प्राप्त हुआ है। जबलपुर को 311 एप के सफल क्रियान्वयन, इन्क्यूबेशन सेंटर के मामले में यह स्मार्ट सिटी अवार्ड पुरस्कार मिला है। वहीं ग्वालियर और सागर शहर को इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के लिए इंडिया स्मार्ट सिटी अवार्ड मिला है।

यह भी देखें: Bharat Jain Beggar दुनिया का सबसे अमीर भिखारी, जानिए कितनी सम्पत्ति का मालिक है

Smart City Award 2022

स्मार्ट सिटी अवार्ड पुरुस्कारों की विभिन्न श्रेणियों में 845 प्रविष्टियां मंत्रालय को प्राप्त हुयी थी उनमें से देश 66 शहरों को इस पुस्कार के लिए चुना गया है। इण्डिया स्मार्ट सिटीज अवार्ड्स कॉन्टेस्ट 2022 में उत्कृष्ट कार्यों के आधार पर मध्यप्रदेश की 5 स्मार्ट सिटी को विभिन्न श्रेणी में 13 अवार्ड मिले हैं।

स्मार्ट सिटी अवार्ड प्राप्त करने के लिए, शहरों को एक विस्तृत मूल्यांकन प्रक्रिया से होकर गुजरना पड़ता है जो उनके बुनियादी ढांचे, परिवहन, स्वच्छता-स्तर, स्वास्थ्य व्यवस्था, शिक्षा, और अन्य पहलुओं में नवाचार और सतत विकास को मापता है। स्मार्ट सिटी अवार्ड्स के पुरुस्कारों के मूल्यांकन में निम्नलिखित बिंदु शामिल हैं:

  • बुनियादी ढांचा – जल, बिजली, सड़क, सार्वजनिक परिवहन
  • स्वास्थ्य देखभाल – स्वास्थ्य सेवा सुविधाएं, स्वास्थ्य शिक्षा
  • परिवहन – साइकिल पथ, कुशल सार्वजनिक परिवहन
  • शहरों का डिजिटलाइजेशन, सुशासन
  • स्वच्छता – कचरा प्रबंधन एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, साफ-सफाई
  • शिक्षा का स्तर- शिक्षा सुविधाएं, शिक्षा की गुणवत्ता और परिणाम
  • गरीबों के लिए किफायती आवास की उपलब्धता
  • बीजली की पर्याप्त आपूर्ति

मध्यप्रदेश राज्य को इन पुरुस्कारों में बेस्ट स्टेट का अवार्ड हासिल हुआ है। आपको बता दे कि इंदौर इससे पहले  भी 2016 में इस स्मार्ट सिटी अवार्ड को हासिल कर चूका है। स्मार्ट सिटी इंदौर को 5, भोपाल को 1, जबलपुर को 2, ग्वालियर को 1, और सागर को 1 अवार्ड हासिल हुआ है।

india smart city award 2023
india smart city award

स्मार्ट सिटी मिशन क्या है

भारत सरकार द्वारा 25 जून 2015 को स्मार्ट सिटी मिशन की शुरुआत की गयी थी। यह एक केंद्र प्रायोजित योजना है। इसे आवास और शहरी मामले का मंत्रालय के अधीन प्रारम्भ किया गया है। यह मिशन देशभर के 100 शहरों को कवर करता है। इस अभियान के तहत देश के विभिन्न क्षेत्रों में स्मार्ट शहरों के निर्माण को प्रोत्साहित किया जा रहा है और शहरों को नवाचार, समावेशी विकास, और स्थायी प्रगति के लिए तैयार किया जा रहा है।

शहरों में झुगियों और बस्तियों सहित क्षेत्रो का आर्थिक एवं संरचनात्मक विकास करना इसका मुख्य उद्देश्य है। आधुनिक तकनीकों का प्रयोग करके लोगों के जीवन स्तर में सुधार लाकर गुणवत्तापूर्ण जीवन सुनिश्चित करना और साथ ही लोगों के आर्थिक विकास को गति प्रदान करना।

अधिक जानकरी के लिए और इस जानकारी की प्रमाणिकता के लिए आप आवास और शहरी मामले का मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर देख सकते है- mohua

india smart city award 2020 list