सीएम लाड़ली बहना योजना के 1250 रूपये का तोहफा, भोपाल के जम्बूरी मैदान में

cm ladli bahna yojana rakshabandhan gift

मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना के अब एक हजार से बढ़कर हुए एक हजार दो सौ पचास रूपये। सीएम शिवराज सभी लाड़ली बहनों को रक्षाबंधन का तोहफा देंगे। भोपाल के जम्बूरी मैदान में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लाडली बहनों को 1250 रूपये का तोहफा देने वाले है। अभी तक लाडली बहनों को मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना के तहत एक हजार रूपये हर महीने मिल रहे है।

क्या है सीएम लाडली बहना योजना

सीएम लाडली बहना योजना एक ऐसी सरकारी योजना है, जिसके तहत मध्यप्रदेश की महिलाओं को एक हजार रूपये प्रतिमाह सरकार की ओर से प्रदान किया जाता है। मध्यप्रदेश सरकार ने प्रदेश की महिलाओं को आत्मनिर्भर और स्वावलम्बी बनाने के लिए इस नई योजना की शुरुआत की है। इस योजना में पंजीकृत महिला को एक हजार रूपये डीबीटी के माध्यम से सीधे बैंक खाते में प्राप्त होते है।

भोपाल के जम्बूरी मैदान में सीएम शिवराज

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 27 अगस्त को, रविवार को भोपाल के जम्बूरी मैदान में लाड़ली बहनों से संवाद करके उन्हें रक्षाबंधन का उपहार देने वाले है। वे अपने सोशल मीडिया हैंडल से प्रदेश की महिलाओं को उनसे जुड़ने का आव्हान करते हुए भी नजर आ रहे है। भोपाल में इस कार्यक्रम के दौरान बहने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को राखी बांधेगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow us

इस दौरान सीएम शिवराज उनके लिए लाड़ली उपहार की भी घोषणा करेंगे। भोपाल में आयोजित इस लाडली बहना सम्मेलन में सीएम शिवराज लाड़ली बहना योजना के एक हजार रूपये  बढ़ाकर 1250 रूपये करने वाले है।

सीएम शिवराज का बहनों को उपहार

लाडली बहना सम्मलेन के दौरान सीएम शिवराज बहनों से सरकारी योजनाओं के बारे में चर्चा करने वाले है। और जैसा की उन्होंने उपहार देने का भी एलान कर रखा है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए महिलाओं को उम्मीद है कि अब मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना की क़िस्त 1250 रूपये हो सकती है।

30 अगस्त 2023 को रक्षाबंधन का भी त्यौहार है ऐसे में उम्मीद है कि शिवराज अपनी लाडली बहनों को खुशखबरी दे। इस बार सभी महिलाएं 1250 रूपये का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रही है।

Professional Blogger, Financial Advisor and Banking Service Provider, Village Level Entrepreneur.
Back To Top